‘मनी’ और ‘मणि’ ने एशियाड से दूर किया

by

सुरेश कलमाड़ी यही दोहरा रहे हैं । बकौल कलमाड़ी, मणिशंकर अय्यर जीते, दिल्ली हारी । दिल्ली को 2014 में होने वाले एशियाड खेलों की मेजबानी नहीं मिली । मैं इस बारे में बहुत कुछ नहीं जानता। इतना समझ पा रहा हूं कि दिल्ली के साथ खेल प्रेमियों व खिलाड़ियों की भी हार हुई है । लोगों के भी अलग-अलग विचार हैं । बीबीसी के फोरम पर लोगों के कुछ राय

इसी पर कुछ इंटरनेट समाचार संस्करण के लगाए गए शीर्षक । यहां देखे
खेल मंत्री मणिशंकर अय्यर व भारतीय ओलंपिक संगठन के अध्यक्ष सुरेश कलमाड़ी के बीच यह खींचतान भारत के लिए नुकसान दायक है । कलमाड़ी का कहना है कि हमारे सरकार खेल पर पैसा नहीं खर्च करना चाहती है ।

इससे पहले अय्यर कह चुके हैं कि खेल आयोजनों पर बड़ी रकम खर्च करने से पहले खेलों के आधारभूत ढांचे को विकसित करना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए।

खेल को लेकर हमारे लिए सबसे बड़ी बात है कि 2010 में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों की मेजबानी हम सही से करें । हम भारतवासियों की ओर एशियाड की मेजबानी जीतने वाले दक्षिण कोरिया के इंच्योन शहर को ढेरों बधाईयां ।

3 Responses to “‘मनी’ और ‘मणि’ ने एशियाड से दूर किया”

  1. श्रीश शर्मा 'ई-पंडित' Says:

    अरे बहुत उम्मीद थी एशियाड खेलों की मेजबानी मिलने की सब ठंडा हो गया। मेरा ख्याल है जब तक खेलों से राजनीति नहीं खत्म होती उनका भला नहीं होने वाला।

  2. Nitin Bagla Says:

    राजेश, आपका ब्लाग फायरफाक्स पर ठीक नही दिख रहा, शायद ये थीम फायर्फाक्स पर सही नेही दिखाती….

  3. Rajesh Roshan Says:

    Fire fox aur Mozilla ke saath kuch na kuch to problem hai. Pata nahi kyon us par BBC hindi . com bhi sahi nahi dikhti hai.

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s


%d bloggers like this: