अमिताभ व अमर सिंह की दोस्ती में दरार??

by

इनके मामले में आपको अपनी स्मृति शक्ति को आजमाना नहीं पड़ेगा। कुछ लम्हे तो याद किए ही जा सकते हैं। अक्षरधाम मंदिर, तिरुपति मंदिर, फ्रांस का नागरिक सम्मान समारोह, दिल्ली विश्वविद्यालय का डाक्टरेट सम्मान समारोह, बनारस, मिर्जापुर, मुंबई और..। बड़े भईया बच्चन और छोटे भईया अमर सिंह हमेशा साथ-साथ ही नजर आए। यह दोस्ती हम नहीं छोड़ेंगे.. वाले स्टाइल में।

लेकिन बच्चन कान फिल्म समारोह में अपनी फिल्म ‘चीनी कम’ के प्रीमियर के मौके पर अकेले पहुंचे। विश्वास नहीं हो रहा ना!!! मुझे भी नहीं हो रहा..

लगता है इनकी दोस्ती में दरार आ गया है। और नहीं आया है तो अमिताभ अपने छोटे भईया को मुश्किल की घड़ी में अकेले छोड़ कर कैसे आ गए? उनके बाबू जी ने इस मामले में कुछ तो समझाया होगा? क्यों? है कि नहीं..

4 Responses to “अमिताभ व अमर सिंह की दोस्ती में दरार??”

  1. mukesh vhora Says:

    pyare bahiya jarasocho

    Amitabh Amar hai ya amar Amitabh hai

    Amitabh se Amar Hai

  2. mukesh vhora Says:

    Pyare Bahiya

    Jara socho

    Amitabh se Amar hai ya Amar se Amitabh

    Amitabh se Amar hai na Phir

  3. दर्शक Says:

    अमिताभ अमर संग ज्यों चलें, लहर लहर लहराय,
    छोरा जावें छोरी संग, पर ये छोरा छोरा क्यों जाय?

  4. संतोष Says:

    अमिताभ व अमर सिंह की दोस्ती?
    थी क्या?
    इन्ही ब्लॉग्स में मैंने पढ़ा था,”तू मेरी पीठ खुजा मैं तेरी खुजाऊं” याद आया।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s


%d bloggers like this: