राष्ट्रपति पद: इस से बढिया कार्टून हो नही सकता

by

President cartoon

राष्ट्रपति पद को भी  राजनेताओ ने बन्दर बाँट बाना दिया है

7 Responses to “राष्ट्रपति पद: इस से बढिया कार्टून हो नही सकता”

  1. श्रीश शर्मा Says:

    हा हा!! अच्छा है।🙂

  2. Sanjeet Tripathi Says:

    मस्त !!

  3. रवि Says:

    वैसे, मैं भी मारक शब्दों के लिए राजेन्द्र व काक को लक्ष्मण से बढ़िया कार्टूनकार मानता रहा हूँ.

    सचमुच ये सर्वोत्तम है. और, बहुत संभव है , जैसा कि अभी अध्यक्ष पद में हो गया है, कोच पद भी कोई राजनेता हथिया ले🙂

  4. sajeev sarathie Says:

    ekdam mast

  5. भाषा-संवाद Says:

    प्रतिभा ताई के चयन को लेकर अब कार्टून बने या व्यंग्य लिखे जाएं;कोई फ़र्क नहीं पड़ने वाला.मज़ा तब है जब एक आम भारतीय पार्षद,विधायक और सांसद चुनते वक़्त तय करे कि वह किसको …और क्यों वोट दे रहा है.शीर्ष तक पहुँचे योग्य/अयोग्य लोग हमारी ही सतर्कता/लापरवाही का प्रतिबिम्ब हैं.अब यदि कोई सोनिया जी की आलोचना भी कर तो क्या फ़ायदा ?

    संजय पटेल

  6. Gyandutt Pandey Says:

    दया आती है कान्ग्रेस की दशा पर! प्रतिभा की “प्रतिभा” से नही‍, उनके “शेखावत” होने से वोट मान्गे जायेंगे!

  7. सुरेश चिपलूनकर Says:

    ज्ञानदत्त जी ने एकदम सही कहा है, जिसने आज तक “शेखावत” उपनाम नहीं लगाया, आज अचानक पद के लिये उन्हें शेखावाटी याद आने लगी है…और उनकी प्रतिभा (?) के बारे में कुछ ना कहना ही बेहतर है, जिस पद पर कलाम, राजेन्द्र प्रसाद, राधाकृष्णन रह चुके हों, उस पद के लिये इतने निम्न स्तर की राजनीति बताती है कि नैतिकता का गिरता स्तर अब उच्च पदों तक पहुँच चुका है…. भविष्य अन्धकारमय है…

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s


%d bloggers like this: