भाईचारा बढ़ाइए: लिंक एक्सचेंज करिए

by

Peace not War 

इसका खास उद्देश्य है भाईचारा को बढ़ावा देना। इधर वैसे भी माहौल गर्म है तो मैंने सोचा कि क्यों ना कोई तरकीब सोची जाएं। तो ऐसा करते हैं मैं अपने ब्लागरोल में आप सभी टिप्पणी देने वाले लोगों के ब्लाग को अपने में जोड़ दूंगा। क्या पता शायद इसी से कुछ सुधर जाए।

वैसे यह बात जरूर है कि कई बार ब्लागरोल लिंक होते हुए भी विचार नहीं मिलते इसके लिए कोई आइडिया तो आप भी सोच सकते हैं। उद्देश्य है सभी के बीच शांति फैलाना। मेरा डोमेन आप जोड़े और मैं आपका।

14 Responses to “भाईचारा बढ़ाइए: लिंक एक्सचेंज करिए”

  1. AMAR KUMAR Says:

    no comments please
    ur writing is to good

  2. masijeevi Says:

    लिंक Xचेंज पर पहले भी विचार किया गया था पर इससे अंतत: ब्‍लॉग बहुत लंबा होकर अपना महत्‍व खो देता है- टेक्‍नारॉटी लाभ भले ही हो जाए कुछ।

  3. masijeevi Says:

    ब्‍लॉग के स्‍थान पर ब्‍लॉग रोल पढ़ें

  4. Rajesh Roshan Says:

    जैसा मैंने कहा था, उसके मुताबिक मसिजीवी जी आपका ब्लोग मैंने अपने ब्लोग रोल में जोड़ लिया है. और अमर जी आपका चुंकि कोई ब्लोग नही है इसलिये आपको कमेंट देने के लिए धन्यवाद🙂

  5. Sanjeeva Tiwari Says:

    लिंक जोड लेने से मन नही जुडा करते भाई पर इतना तो है एक दुसरे का चिठ्ठा सीधे एक क्लिक पर उपलब्ध हो जाता है । इस विकट संकट के संबंध मे देवलोक के देवो ने अपने अपने ढंग से कथा व्यथा बखानी है । अब भगवान विष्णु ही कृपा करने वाले है उसी का इंतजार करें और लिखते रहे, लिखते रहे । अब कोई ये मत पूछ देना कि ये भगवान विष्णु कौन है ?

  6. Rajesh Roshan Says:

    संजीव जी मुझे नही पता कि आपको छोटी बातो में खुस होना आता है या नही लेकिन मैं तो हर छोटी बात पर भी खुश हो जाता हु। आप भी कोशिश करके देखे। वैसे आपका भी ब्लोग मेरे ब्लोग रोल कि शोभा बढ़ा रहा है । कमेंट देने के लिए धन्यवाद ।🙂

  7. संजय बेंगाणी Says:

    लालच दे कर कोमेंट लेना क्या अच्छी बात है🙂
    सुझाव अच्छा है.

  8. Rajesh Roshan Says:

    लालच अगर नुकसान ना दे तो उसे अपना लेना चाहिऐ । Am i right Sanjay ji?
    ur blog also added on my blog roll.🙂

  9. श्रीश शर्मा Says:

    अच्छा आइडिया है, लिंक-प्रथा से कल्याण होता है।🙂

  10. Rajesh Roshan Says:

    Shrish ji aap late ho gaye, ab maine blogroll mein add karne ki jagah nahi hai.🙂 Are nahi bhai aap logo ke liye jagah nahi hogi to dusra blog khol denge lekin add to jaroor karenge.

    Thanks🙂

  11. श्रीश शर्मा Says:

    हा हा, राजेश भाई ब्लॉगरोल में जगह पाने के लिए ही टिप्पणी नहीं की। मैं तो लिंक प्रथा का बहुत पहले से समर्थक हूँ। हाँ मैंने ब्लॉगरोल तो केवल रमण कौल जी द्वारा बनाई ‘ब्लॉगर सूची ‘ ही लगा रखा है लेकिन मैं अपनी पोस्टों में तमाम चिट्ठों और चिट्ठाकारों जिनका जिक्र आए, लिंक देता हूँ। लिंक प्रथा से गूगल पेज रैंक और टैक्नोराती रैंक दोनों में लाभ होता है।🙂

  12. समीर लाल Says:

    लो भाई, हम भी ललचा ही गये.🙂

  13. Sanjeet Tripathi Says:

    वा वा, काहे ऐसन लालच देवत हौ भैय्या!

  14. jay Says:

    le lijiye roshan sahab hum bhi aahi gaye

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s


%d bloggers like this: